बुधवार, 28 नवंबर 2018

अंतरिक्ष के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां


अंतरिक्ष के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां

प्रश्न :सबसे पहले अंतिरक्ष पहुँचने वाले यात्री किस देश के थे ?
उत्तर : 12 अप्रैल 1961 को रूस के यूरी गागरिन अंतरिक्ष में पहुंचने वाले प्रथम व्यक्ति बन गए थे। यह पहली मानव फ्लाइट थी अंतरिक्ष के लिए। 

यूरी गागरिन रूसी कॉस्मोनॉट - हिंदी 365
यूरी गागरिन रूसी कॉस्मोनॉट - हिंदी 365
इससे पहले 03 नवम्बर 1957 को रूस लाइका नामक कुत्ते को अंतरिक्ष में पहुंचा चुका था। ये फ्लाइट जिस पर इस कुत्ते को ले जाया गया था वो स्पुटनिक 2 नामक सैटेलाइट को ऑर्बिट में छोड़ने गयी थी। ऐसा बताया जाता है कि कुत्ते की मौत हो गयी थी इस यात्रा पर क्योंकि जिस केबिन में उसे रखा गया था वह चौथे ऑर्बिट तक पहुँचते पहुँचते काफी गरम हो गया था और कुत्ता इसको सह नहीं पाया था। वैसे भी उस सैटेलाइट का लांच व्हीकल पृथ्वी पर दुबारा सुरक्षित पहुंचने के लिए नहीं बनाया गया था।

प्रश्न : अंतरिक्ष यात्री के कपडे किसके बने होते हैं ?
उत्तर : अंतरिक्ष यात्री जो कपडे पहनते हैं वो सिर्फ कपडे नहीं बल्कि स्पेससूट होता है। स्पेस सूट अपने आप में एक सिंगल यात्री को छोटे स्पेसक्राफ्ट का फील देता है। स्पेससूट को इस तरह डिज़ाइन किया जाता है कि वह पहने हुए अंतरिक्ष यात्री को ठण्ड, विकीर्ण किरणों व अंतरिक्ष में पाए जाने वाली निम्न दाब से बचाता है। स्पेस सूट में साँस लेने के लिए ऑक्सीजन भी उपलब्ध रहती है। 
स्पेस स्टेशन में अंदर अंतरिक्ष यात्री नॉर्मल कॉटन के काफी सारे इनर कपडे लेकर प्रवेश करते हैं और पहनने के लिए कॉटन पेंट शर्ट लेकर जाते हैं। एक ही समस्या रहती हैं ऊपर कपडे धो नहीं सकते। इस्तेमाल करो और रख दो। 

प्रश्न : एक उपग्रह पर रहने वाले अंतरिक्ष यात्री की भारहीनता की क्या स्थिति होती है ?
उत्तर : ये उपग्रह पर निर्भर करता है कि वहां का वातावरण कैसा है जैसे चन्द्रमा की बात करें जो कि पृथ्वी का प्राकृतिक उपग्रह है। चन्द्रमा पर आपका वजन 16.5 किलोग्राम होगा यदि आपका भार पृथ्वी पर 100 किलोग्राम हैं यानि मात्र 16.5 प्रतिशत। ये गुरुत्व की वजह से होता है। 
Share this article :

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें